अमेरिकी क्रांति NCERT 17th cen.पूरी जानकारी useful notes

अमेरिकी क्रांति NCERT

अमेरिकी क्रांति NCERT
अमेरिकी क्रांति NCERT
  • अमेरिका की खोज एक आकस्मिक घटना थी | क्रिस्टोफर कोलंबस की खोज एक युगांतरकारी घटना के रूप में परिणित हुई | अमेरिका का नामकरण अमेरिगो वेस्पुची नामक इटालियन नाविक के नाम पर हुआ |
  • यूरोपीय देशों ने अमेरिका में अपने उपनिवेश बसाने आरंभ कर दिए | उत्तरी अमेरिका में फ्रांस हालैंड वह इंग्लैंड ने अपने-अपने उपनिवेश बसाएं | जबकि दक्षिण अमेरिका में स्पेन और पुर्तगाल ने अपने-अपने उपनिवेश बसाएं |
  • 18वीं सदी के मध्य तक आधुनिक कनाडा वाले क्षेत्र पर फ्रांस का संयुक्त राष्ट्र अमेरिका वाले क्षेत्र पर ब्रिटेन का और लैटिन अमेरिका वाले क्षेत्र पर स्पेन और पुर्तगाल के उपनिवेश स्थापित हो गए |
  • अमेरिका में व्यवस्थित रूप से उपनिवेश की स्थापना का प्रारंभ 17वीं सदी में ब्रिटेन द्वारा किया गया | 1606 में ब्रिटेन की वर्जिनियां कंपनी को अमेरिका में औपनिवेशिक विस्तार के लिए अधिकार पत्र दिया गया |
  • इस कंपनी का मुख्य कारण अमेरिका में ब्रिटेन के मजदूरों को बसाना यहां के मूल निवासी जो रेड इंडियन कहलाते थे | उन्होंने प्रारंभिक में इनका प्रतिरोध किया लेकिन वे इसमें सफल नहीं हो पाए सिर्फ पश्चिमी क्षेत्रों में सिमट कर रह गए |
  • 1776 ईस्वी में अमेरिकी क्रांति के पूर्व तक अमेरिका ब्रिटेन के उपनिवेश था उपनिवेशो का समूह था जैसे वर्जिनियां, न्यू जर्सी, मैरीलैंड, न्यूयॉर्क |
  • अमेरिका की क्रांति 1776 फिलाडेल्फिया में कांग्रेस की उद्घोषणा और फिर अंग्रेजी और अमेरिकी सेनाओं के मध्य संघर्ष के माध्यम से विकसित हुई जिसमें अमेरिका को फ्रांस सहित अनेक यूरोपीय देशों का समर्थन प्राप्त हुआ |
  • यहां मुख्यतः ब्रिटेन के लोगों के साथ अन्य यूरोपीय देशों के लोग भी बसें | अमेरिका में बसने वाले लोगों के भिन्न-भिन्न उद्देश्य के कारण थे |
  • एक बड़ा कारण यह था कि 16 मी सदी में धर्म सुधार आंदोलन के बाद जो नए धार्मिक समुदाय बने, उन्हें अपने स्थानों पर अनेक प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ा ,जैसे- इंग्लैंड में राज्य नियंत्रित चर्च, संप्रदाय प्यूरिटन , फ्रांस का हूगनोट अमेरिका में आकर बसे | बहुत सारे लोग कुछ अन्य कारणों जैसे बेरोजगारी, पूंजी लगाने का उत्साह, नई जगह पर भाग्य आजमाने की चाहत, बाजार की जरूरत आदि के उद्देश्य से भी अमेरिका में आकर बसे |

अमेरिकी क्रांति के कारण

  • उत्तरी अमेरिका के व्यापार इंग्लैंड के व्यापारिक नियंत्रण से नाराज थे जबकि दक्षिण अमेरिका के प्लांट इंग्लैंड के महाजनों के कर्जदार थे तथा इस स्थिति से मुक्त चाहते थे |
  • इंग्लैंड ने कई कानून बनाए जिनके अनुसार अन्य देशों के साथ व्यापार करने के अमेरिकी उपनिवेश के अधिकार पर प्रतिबंध लगा दिए गए | एक कानूनी यह भी था कि इंग्लैंड में जो माल तैयार होता था वही माल उसके उपनिवेश तैयार नहीं कर सकते थे |
  • अमेरिकी क्रांति का कारण था- अमेरिका और ब्रिटिश आर्थिक हितों के बीच टकराव की स्थिति उत्पन्न होना | इंग्लैंड संसद को सर्वोच्च मानता था जबकि अमेरिकी इससे इंकार कर राजा के साथ अपने संबंधों पर बल देते थे |
  • इंग्लैंड अपने पैसों की सुरक्षा के बदले खर्च की मांग कर रहा था | उपनिवेश में कठोर वाली नीतियां लागू कर दी गई इसलिए गतिरोध उत्पन्न होना स्वाभाविक था | अमेरिकियों ने नारा दिया कि प्रतिनिधित्व नहीं तो कर नहीं |
  • इंग्लैंड ने प्रारंभ में उपनिवेश ओके स्वशासन पर अंकुश लगाने अथवा हस्तक्षेप करने का प्रयास नहीं किया | इंग्लैंड में हुए धार्मिक अत्याचारों से त्रस्त होकर जो लोग अमेरिका में बसे थे उन्हें वहां के चर्च और सरकार से कोई सहानुभूति नहीं थी |
  • दूसरे अंग्रेजों के अतिरिक्त अन्य यूरोपीय थे जिनसे इंग्लैंड के लिए सहानुभूति की उम्मीद नहीं की जा सकती थी | इंग्लैंड में धर्म सुधार आंदोलन के कारण प्रोटेस्टेंट धर्म का प्रचार हुआ और एलेनगंज चर्च की स्थापना हुई किंतु इसके विरोध में भी अनेक संघ बने तथा जेम्स प्रथम और चार्ल्स प्रथम की धार्मिक और सहिष्णुता की नीति से तंग आकर हजारों की संख्या में लोग इंग्लैंड छोड़कर अमेरिका जा बसे |
  • शिक्षा पत्रकारिता एवं विचार को द्वारा बौद्धिक चेतना के प्रसार में विशेष योगदान दिया गया | इसी क्रम में 1636 ईसवी में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी की स्थापना हुई |
  • 1732 के एक कानून के अंतर्गत अमेरिकी उपनिवेश में तांबा गलाने व फर की टोपिया बनाने पर नियंत्रण लगा दिया गया | साथ ही फ्रांस एवं वेस्टइंडीज से व्यापार करने की स्वतंत्रता भी छीन ली गई |
  • जेफरसन के अनुसार अमेरिकी क्रांति का वास्तविक आरंभ 1620 में ही हो चुका था जबकि वर्जिनियां को अपने प्रतिनिधि निर्वाचित करने का अधिकार दिया गया था | सप्तर्षी युद्ध के बाद कनाडा से फ्रांसीसी खतरे की समाप्ति हो गई |
  • संयुक्त युद्धाभ्यास से अमेरिकियों के आत्मविश्वास में वृद्धि हुई अमेरिकी क्रांति का दूसरा महत्वपूर्ण कारण संवैधानिक विभेद था क्योंकि दोनों शक्तियां उसकी व्याख्या अलग-अलग ढंग से करती थी |

अमेरिकी क्रांति का महत्व

  • अमेरिकी स्वतंत्रता संग्राम आधुनिक विश्व की महत्वपूर्ण घटना है | इस स्वतंत्रता संग्राम से ना सिर्फ अमेरिका बल्कि किसी न किसी रूप में पूरा विश्व प्रभावित हुआ |
  • विश्व में पहली बार मानव अधिकार, स्वतंत्रता और जीवन के लिए सुख को प्रदान करने वाली एक गणतांत्रिक संघीय शासन वाले देश की स्थापना की गई | अमेरिका पहला ऐसा देश बना जिसका एक लिखित संविधान था |
  • स्वतंत्रता संग्राम में अमेरिका में औद्योगिक क्रांति की शुरुआत की औद्योगिक विकास के कारण समाज पर पूंजीपतियों का प्रभाव पड़ा | इस पराजय से इंग्लैंड ने विश्व के अन्य देशों में अपनी नीति बदलते हुए मित्रता का संबंध स्थापित किया |
  • इससे फ्रांस के इतिहास पर भी महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ा आयरलैंड की संसद को स्वतंत्र स्थिति प्राप्त हुई पोस्ट एवं जैसे नेता संसद के प्रजातंत्र का नेतृत्व करने लगे |
  • अमेरिकी क्रांति सेवा डीजे वादी विचारधारा को गहरा आघात लगा और एडम स्मिथ का मैसेज फेयर सिद्धांत सशक्त हुआ इस प्रकार अमेरिकी क्रांति को एक नए युग की शुरुआत कहा जा सकता है |

Read More…

Explain Dream Socialist

Pallavas

स्वप्नदर्शी समाजवादी कौन थे?

Rashtrakutas

प्रबोधन(विश्व का इतिहास)-अर्थ, परिचय, प्रमुख विशेषताएं

Rashtrakutas

Complete Knowledge of Religious Reform Movement in Europe 16th Century

महमूद गजनबी 998-1030

पुनर्जागरण के लक्षण

Political Condition Alberuni

Social Condition Alberuni

Success of Mahmud Gajnavi